आदिवासी विशेष

रांची,(झारखण्ड) में अखाड़ा महासम्मेलन में 7 मई को सम्मानित की जाएँगी सुशीला धुर्वे!

Achievement
रांची(झारखण्ड) में अखाड़ा महासम्मेलन में 7 मई को सम्मानित की जाएँगी सुशीला धुर्वे!

बैतुल,मेजर-आदिवासी बाहुल्य जिला बैतुल में विशाल आदिवासी सामूहिक विवाह सम्मेलन की बैठक 16 अप्रैल को रैन बसेरा सदर बैतुल में होगी।

$आमंत्रण$
जय सेवा ७५० जय पड़ापेन
विशाल आदिवासी सामुहिक विवाह सम्मेलन 7 मई की बैठक 16/04/2017 दिन रविवार को होगीं।
तिरुमाल/तिरुमाय.........................
बड़े हर्ष के साथ समस्त मातृ शक्ति,पितृ शक्ति व सगजनो को सूचित किया जाता है की प्रति वर्षानुसार इस वर्ष भी समस्त आदिवासी संघठनों जिला बैतुल के तत्वाधान में विशाल आदिवासी सामूहिक विवाह सम्मेलन आयोजित किया जा रहा है।जिनमे निम्न कार्यक्रम आयोजित है।
~*कार्यक्रम*~
1बड़ादेव एव माँ मँगलादेवी पूजन-सुबह 10 बजे से 11 बजे

राजेश धुर्वे,जिला बैतुल-14 अप्रैल भारत रत्न बाबा साहब डॉ.भीमराव अंबेडकर 126 वीं जयंती के उपलक्ष्य पर आदिवासी मंगल भवन में मनाया जायेंगा।

आदिवासी बाहुल्य जिला बैतुल में 14 अप्रैल भारत रत्न बाबा साहब डॉ.भीमराव अंबेडकर की 126 वीं जयंती का आयोजन आदिवासी मंगल भवन बैतूल में किया जायेंगा।*
14 अप्रैल को सविधान निर्माता व भारत रत्न बाबा साहब डॉ.भीमराव अंबेडकर की 126 वीं जयंती के उपलक्ष्य पर समय प्रातः- 7:30 बजे आदिवासी मंगल भवन पोस्टमैट्रिक बालक छात्रावास परिसर गंज बैतुल में बाबा साहब की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया जायेंगा तथा उनकी जीवनी पर प्रकाश डाला जायेगा। तत्पश्चात बुद्धिस्ट सोसाइटी के साथ सयुक्त तत्वाधान में विशाल रैली का आयोजन किया गया हे।। जिसमे आप सभी सदार आमंत्रित हे।।।

शहीद भीमानायक पर जयस युवा बना रहे है पहली डॉक्यूमेंट्री फ़िल्म*

धार,बड़वानी, खरगोन और इंदौर जिले के जयस युवा फ़िल्म में निशुल्क निभा रहे है किरदार* इंदौर के प्रसिध्द कैमरामेन आदर्श गवली, आशीष तंवर एवं गजानंद मुझाल्दे भीनिशुल्क दे रहे है सेवाधार । गरीबों की खातिर क्रांतीकारी यौद्धा भीमा नायक ने अंग्रेजों से लोहा लिया। अंग्रेजों ने क्रूरतापूर्वक गरीबों पर अत्याचार कर अनाज लूट लिया। इसका बदला लेते हुए नायक ने लूटा हुआ अनाज व खजाना अपने साहस से अंग्रेजों से छीनकर गरीबों में बांट दिया। नायक ने गरीबों के हक के लिए आखरी दम तक अंग्रेजों से लड़ाई लड़ी। यह भीमा नायक के इतिहास के पन्नाों से जुड़ा एक छोटा सा वाकिया है। नायक के जीवन से जुड़े ऐसे कई घटनाक्रम हैं, जो हमें प

बरखा लकड़ा को विष्णु प्रभाकर पत्रकारिता सम्मान

गांधी हिंदुस्तानी साहित्य सभा और विष्णु प्रभाकर प्रतिष्ठान की ओर से आदिवासी समुदाय की कठिनाइयों को लगातार उभारने के लिए सक्रिय झारखंड रांची की बरखा लकड़ा को विष्णु प्रभाकर पत्रकारिता सम्मान देने की घोषणा की गई है। यह फैसला सन्निधि संगोष्ठी की केंद्रीय संयोजन समिति ने रविवार को किया। सन्निधि संगोष्ठी युवा रचनाकारों को मंच देने का काम पिछले साढ़े तीन साल से कर रहा है।

महापडाव की घोषणा - सरकार को मांग पूरी करने हेतु 12 जून 2016 तक का समय दिया

आदिवासी आरक्षण मंच मिशन 73 की बैठक आदिवासी कोलेज छात्रावास डुंगरपुर में आयोजित की गईा जिसकी अध्‍यक्षता डा जे के रोत ने की । बैठक में 73 प्रतिशत आरक्षण एवं 5.5 प्रतिशत राज्‍य प्रशासनिक सेवाओं में मिले इस हेतु चर्चा की गईा मिशन लम्‍बे समय से राज्‍य सरकार के सामने मांग रख रहा है लेकिन सरकार आदिवासियों की प्रमुख मांगों पर कोई भी गौर नही कर रही हैा इस हेतु सर्वसम्‍मती से सरकार को मांग पूरी करने हेतु 12 जून 2016 तक का समय दिया है। अगर 12 जून तक सरकार का कोई भी सकारात्‍मक निर्णय नही होता है तो नेशनल हाईवे 8 पर कभी भी उदयपुर से रतनपुर तक महापडाव डाला जायेगा । बैठक में महापडाव हेतु विस्‍तत योजना भी

साबला आसपुर के युवा 27 को बांसवाडा की सडकों पर मचायेंगे तहलका

आदिवासी आरक्षण मंच मिशन 73 ब्लाॅक - आसपुर साबला की मिटिंग मंगलेश्वर महादेव मंदिर परिसर साबला में सम्पन्न हुई। जिसमें दोनों पंचायत समितियों के समस्त सरपंच, वार्ड पंच, अधिकारी कर्मचारी , व्यापारी, युवा, किसान वर्ग और मजदूर वर्ग ने बढचढ कर भाग लिया।बैठक में निर्णय लिया गया कि बांसवाडा में 27 मई को होने वाली मिशन 73 की महारैली में बढचढ कर भाग लेंगे। प्रत्येक सरपंच अपनी पंचायत से एक बस भरकर पब्लिक को लायेंगे।इस प्रकार दोनों पंचायत समितियों की कुल 52 बसें 27 मई को सुबह 10 बजे बांसवाडा के लिए रवाना होगी।इस बैठक में रामेश्वर जी वरवासा, कचरूलाल जी वणवासा, मुरलीधर जी धाणी, डायालाल जी भोडन का वेला, दि

आदिवासी परिवार का 10वां आदिवासी संस्‍क़ति चिंतन प्रशिक्षण शिविर सम्‍पन्‍न

आदिवासी परिवार का 10वां आदिवासी संस्‍क़ति चिंतन प्रशिक्षण शिविर का आयोजन दिनांक 14 मई एवं 15 मई को बांसवाडा के ताम्‍बेसरा स्थित चोरपरनाला में आयोजित किया गया
कार्यक्रम में चिंतन के मुख्‍य बिन्‍दु निम्‍नानुसार थे -
1 हम आदिवासी क्‍यों है
2 आदिवासी और गैर आदिवासी में क्‍या मूलभुत अन्‍तर है
3 हमें आदिवासी होने से क्‍या मिला। क्‍या मिलना चाहिए।
4 हमारी आदिवासी पहचान सुरक्षित रखने से क्‍या फायदें है।
कार्यक्रम में जिला स्‍तरिय कमेटी का गठन किया गया

 

पी पेसा कानून के क्रियान्वयन पर आदिवासी बुद्धिजीवी मंच की बैठक

RANCHI (5 March): पी पेसा कानून के क्रियान्वयन को लेकर रविवार को होटल अशोका में आदिवासी बुद्धिजीवी मंच की बैठक हुई। बैठक में केंद्रीय कानून पी पेसा क्99म् की धारा ब्(0)और ब् (एम) क्रियान्यवन पर चर्चा हुई। मंच के अध्यक्ष पीसी मुर्मू ने कहा कि पी पेसा कानून के लागू नहीं होने से राज्य में नक्सलवाद की समस्या समाप्त होगी। उन्होंने कहा कि पंचायती राज व्यवस्था अनुसूची क्षेत्रों में लागू नहीं हो सकती है, परंतु कानून को तोड़कर इसे लागू किया गया है। देश में कुछ विशेष क्षेत्र है, जिसे संविधान में अनुसूचित क्षेत्र के रूप में घोषित किया गया हैं, जहां की पहचान का मतलब सिर्फ आर्थिक विकास नहीं है, बल्कि सा

अफीम व बिडी पर हमेली परगना के 12 गांवों में प्रतिबंध

भीनमाल में भील समाज के सामाजिक समारोह में उपस्थित नरसिग पढियार भील सांचोर जिला जालोर राजस्थान राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अखिल भारतीय अदिवासी विकास परिषद नई दिल्ली भारत एवं प्रदेशाध्यक्ष भील एकता महासंघ राजस्थान व पंच पटेल युवा साथी एवं कर्मचारी बंधु इस मौके पर समाज के सामाजिक समारोहो में अफीम व बिडी पर हमेली परगना के 12 गांवों में प्रतिबंध किया गया